UP board Master chapter 7 Class 12 Long Questions Answer

UP board Master chapter 7 Class 12 Long Questions Answer
BoardUP Board
Text bookNCERT
Class12
SubjectEnglish
Chapter7
Chapter nameTHE HERITAGE OF INDIA
Chapter NumberNumber 6 Long Questions Answer
CategoriesEnglish PROSE Class 12th
UP Board Syllabus Chapter 7 Class 12th English (Prose)
NumberChapter Number
1UP Board syllabus Chapter 7 Class 12th THE HORSE
2UP Board syllabus Chapter 7 Class 12th Summary of the Lesson
3UP Board syllabus Chapter 7 Class 12 Explanation
4UP Board syllabus chapter 7 Class 12 Comprehension
5UP board syllabus chapter 7 Class 12 Short Questions Answer
6UP board syllabus chapter 7 Class 12 Long Questions Answer
7UP board syllabus chapter 7 Class 12 FILL IN THE BLANKS

Q. Answers the following questions in about 150 words:

Q. 1. What does Basham say about India today and India in the future?
ए. एल. बाशम आज के भारत और भविष्य के भारत के सम्बन्ध में क्या कहता है ?

Or

What does A.L. Basham predict about the Indian way of life?
भारतीय जीवन पद्धति के विषय में ए. एल. बाशम क्या भविष्यवाणी करता है ?

Or

How does Basham maintain that Hindu civilization will retain its continuity?
ए. एल. बाशम यह कैसे मानते हैं कि हिन्दू सभ्यता अपनी निरन्तरता को कायम रखेगी ?

Ans. Introduction

Ans. Introduction : “The Heritage of India is a famous essay written by A.L. Basham. In this essay, the writer discribes of Indian culture and heritage. He feels
a contrast between the Indian way of life and the Western way of life.

Different creeds

Different creeds : The writer says that there are people of different creeds in India but they are similar in one respect. They feel proud when they talk about
their ancient culture. They wish that India may develop and progress. They are ready to destroy the weaknesses of their culture.

Uncertain future

Uncertain future: India has many economical and political problems. These problems are the main obstacles in the path of progress. Therefore, India’s future seems uncertain. But one thing is certain that Indians will not copy the Europians blindly. They adinit that their culture is permanent and unperishable.

Combination of cultures

Combination of cultures : Indians no more denigrate themselves. They do not show unreasoning faith in the supremacy of their culture. India is now performing the astonishing and difficult task of combining different cutlures. In the past, India assimilated Asian cultures and now it is assimilating Western culture.

Conclusion

Conclusion : Here the writer predicts that Hindu civilization will retain its continuity. The charm and graciousness of the Indian way of life will continue.
They will not leave their old culture and traditions.

भूमिका

भूमिका : “The Heritage of India’ ए. एल. बाशम द्वारा लिखित प्रसिद्ध निबन्ध है। प्रस्तुत लेख में लेखक भारतीय संस्कृति और विरासत का वर्णन करता है। वह भारतीय जीवन पद्धति और पश्चिमी जीवन पद्धति में विरोधाभास पाता है।

विभिन्न धर्म

विभिन्न धर्म : लेखक कहता है कि भारत में विभिन्न धर्म हैं लेकिन उनमें समानता है। जब वे अपनी प्राचीन संस्कृति की बात करते हैं तो गौरव महसूस करते हैं। वे आशा करते हैं कि भारत विकास और उन्नति करेगा। वे अपनी संस्कृति की कमजोरियों को दूर करने के लिए तैयार हैं।

अनिश्चित भविष्य

अनिश्चित भविष्य : भारत की अनेक आर्थिक और राजनीतिक समस्याएँ हैं। उनकी समस्याएँ उनकी उन्मति में बाधक है। इसलिए भारत का भविष्य अनिश्चित मालूम पड़ता हैं। लेकिन एक बात निश्चित है कि भारतीय लोग यूरोपवासियों का अन्धानुकरण नहीं करेंगे। वे स्वीकार करते है कि उनकी
संस्कृति स्थायी तथा अनाशवान है।

संस्कृतियों का मेल

संस्कृतियों का मेल : भारतीय अपने को कलंकित नहीं करते। वे अपनी संस्कृति की अतार्किक महानता प्रदर्शित नहीं करते। अब भारत विभिन्न संस्कृतियों को जोड़ने के लिए कठिन और चकित करने वाला कार्य कर रहे हैं। भूतकाल में, भारत ने एशिया की संस्कृति को आत्मसात किया और अब यूरोप की संस्कृति को आत्मसात कर रहा है।

निष्कर्ष

निष्कर्ष : लेखक भविष्यवाणी करता है कि भारतीय सभ्यता अपनी निरन्तरता को पुनः प्राप्त कर लेगी। भारत की जीवन पद्धति का गौरव तथा आकर्षण बना रहेगा। वे अपनी प्राचीन संस्कृति और
परम्पराओं को नहीं छोड़ेंगे।

Q. 2. What evidence does the author give to prove that Indian culture has change a lot?
मारतीय संस्कृति में पर्याप्त परिवर्तन आ गया है, इस तथ्य को सिद्ध करने के लिए लेखक क्या सबूत प्रस्तुत करता है ?

Or

How does A. L. Basham prove that Indian culture though changed a lot, still maintains its continuity?
ए. एल. बाशम कैसे सिद्ध करता है कि भारतीय संस्कृति में काफी परिवर्तन हुआ है, फिर भी उसमें निरन्तरता बनी हुई है?

Or

According to A.L. Basham, what does The Heritage of India consist of ?
ए. एल. बाशम के अनुसार भारतीय विरासत किस से मिलकर बनी है?

Or

What idea of social service do you gather from the lesson “The Heritage of India’? How did Gandhiji give it a new meaning and direction?
The Heritage of India’ पाठ से आप समाज सेवा का कौन-सा विचार ग्रहण करते हैं ? गान्धी जी ने इसे क्या नया अर्थ और दिशा दी?

Ans. Introduction

Ans. Introduction: A.L. Basham is a famous British scholar and ideologist. He wrote a book ‘The Wonder That Was India’. The culture of India is described in the
book. The present piece is from that book. Here the writer shows the permanence of ancient Hindu civilization..

manent things

Permanent things: There are some things in Hindu civilization which are permanent. They still continue. They are coming from ancient times. The Bhagvada
Gita and Upanishads inspire men for action. Indian way of life is charming and gracious even today. The hurry and worry devices of the West cannot harm it. In the
same way the tales of heroes and of the loves of great men in our classics are still charming and loved by people. The quiet and happiness of Indian life will continue in future.

Useless perished

Useless perished : Much that was useless has perished. Animal sacrifice is performed in some sects and the barbarous hecatombs have vanished altogether.
Sati Pratha (widow burnt on their husband’s pyre) has been discarded. Girls may not by law be married in childhood. Untouchability has vanished. Caste is vanishing. The family system is adopting itself to present day conditions.

Conclusion

Conclusion: It is hoped that Indians will not blindly copy Europens. They will not give up their old traditions and culture. Hindu civilization will continue,

भूमिका

भूमिका : ए. एल. बाशम एक प्रसिद्ध लेखक और आदर्शवादी था। उसने एक पुस्तक ‘The Wonder That Was India’ लिखी। इस पुस्तक में उसने भारतीय संस्कृति का वर्णन किया। यहाँ लेखक हिन्दू सभ्यता के स्थायित्व का वर्णन कर रहा है।

स्थायी बातें

स्थायी बातें : हिन्दू सभ्यता में कुछ बाते स्थायी हैं। वे अब भी चल रही हैं। वे प्राचीन काल से चली आ रही हैं। भगवद्गीता और उपनिषदें मनुष्यों को कर्म करने की प्रेरण देती हैं। भारतीय जीवन पद्धति आज भी शानदार और आकर्षक है। पश्चिम की उथल-पुथल पद्धति इसे हानि नहीं पहुँचा सकती। इसी प्रकार हमारे धर्म ग्रन्थों में दीरों की कथाएँ तथा महान लोगों के प्रेम अभी भी आकर्षक और स्नेहपूर्ण हैं। भारतीय जीवन की शान्ति और प्रसन्नता भविष्य में भी जारी रहेगी।

व्यर्थ का अन्त

व्यर्थ का अन्त : व्यर्थ की अधिकतर बातें समाप्त हो चुकी हैं। जानवरों की बलि कुछ क्षेत्रों में दी जाती है, साथ ही सामूहिक रूप से दी जाने वाली भयकर प्रथा समाप्त हो चुकी है। पति की मृत्यु पर स्त्री को जलाने वाली सती प्रथा का बहिष्कार हो चुका है। नियमानुसार बचपन में लड़कियों की शादी नहीं हो सकती। स्पृश्यता समाप्त हो चुकी है। जाति समाप्त हो रही हैं। परिवार का तरीका वर्तमान हालातों को स्वीकार कर रहा है।

निष्कर्ष

निष्कर्ष : यह आशा की जाती है कि भारतवासी अन्धे होकर यूरोपवासियों का अनुकरण नहीं करेंगे। वे अपनी प्राचीन परम्पराओं और संस्कृति को नहीं त्यागेंगे।

Q. 3. What significant changes, according to Basham, have taken place in India since achieving freedom?
स्वतन्त्रता प्राप्त करने के बाद, बाशम के अनुसार, भारत में क्या उल्लेखनीय परिवर्तन हुए हैं? .

Ans. Introduction

Ans. Introduction : India achieved freedom in 1947. Since then many significant changes have taken place in India according to the writer A.L. Basham.

Important changes:

  1. The public sacrifices of the vedic age have perished.
  2. Widows are not burnt on their husband’s pyres.
  3. Girls are not, by law, married in childhood.
  4. Brahmans meet and mix with the lowest castes without consciousness of grave pollution in buses and trains all over India.
  5. Caste is vanishing.
  6. Temples are open to all by law.
  7. The old family system is adopting itself to present day
    conditions.

Conclusion

Conclusion : In fact, the whole face of India is changing. But the cultural traditions is going on as such.

भूमिका : भारत ने 1947 में स्वतन्त्रता प्राप्त की। लेखक ए. एल. बाशम के अनुसार तबसे भारत में कई उल्लेखनीय परिवर्तन हुए हैं।

महत्वपूर्ण परिवर्तन :

  1. वैदिक काल की सार्वजनिक बलि प्रथा समाप्त हो चुकी है।
  2. विधवाओं को उनके पतियों की मृत्यु के पश्चात चिता में नहीं जलाया जाता।
  3. नियम के द्वारा लड़कियों की बचपन में शादी नहीं होती।
  4. पूरे भारत में बसों तथा रेलगाड़ियों में बिना ऊँची-नीची जाति के भेदभाव के ब्राह्मण निम्नतम जातियों से मिलते हैं।
  5. जाति मिट रही है।
  6. नियम द्वारा मन्दिर सभी के लिए खुले हैं।
  7. प्राचीन परिवार प्रणाली स्वयं वर्तमान हालातों को अपना रही है।

निष्कर्ष : वास्तव में, भारत का सम्पूर्ण चेहरा बदल रहा है। लेकिन सांस्कृतिक परम्पराएँ ज्यों की त्यों चल रही हैं।

UP Board Syllabus Chapter 7 Class 12th English (Prose)
NumberChapter Number
1UP Board syllabus Chapter 7 Class 12th THE HORSE
2UP Board syllabus Chapter 7 Class 12th Summary of the Lesson
3UP Board syllabus Chapter 7 Class 12 Explanation
4UP Board syllabus chapter 7 Class 12 Comprehension
5UP board syllabus chapter 7 Class 12 Short Questions Answer
6UP board syllabus chapter 7 Class 12 Long Questions Answer
7UP board syllabus chapter 7 Class 12 FILL IN THE BLANKS

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap